US School Shooting: अमेरिका के टेनेसी स्कूल में फायरिंग, 3 बच्चों समेत 6 लोगों की मौत, हमलावर भी ढेर

हाइलाइट्स

हमलावरों ने दो असॉल्ट राइफलें और एक हैंडगन से झोंके फायर, मचा हड़कंप
वाचा स्कूल की घटना, इसमें करीब 200 छात्र पढ़ते हैं

नैशविले (अमेरिका). अमेरिकी राज्य टेनेसी के नैशविले में सोमवार को एक प्राइवेट स्कूल में जबरदस्त गोलीबारी हुई है. इस घटना में तीन बच्चों समेत 7 लोगों के मारे जाने की खबर है. फायरिंग में कुछ लोग घायल भी हुए हैं. पुलिस ने बताया कि हमलावर के पास कम से कम दो असॉल्ट राइफलें और एक हैंडगन थी. पुलिस ने हमलावर के भी मारे जाने की बात कही है. गोलीबारी के दौरान स्कूल में नर्सरी से लेकर छठी कक्षा तक के लगभग 200 छात्र मौजूद थे.

यह घटना ऐसे समय में हुई हैं जब देश भर में लोग स्कूली हिंसा से जूझ रहे हैं, जिसमें पिछले साल टेक्सास के उवाल्डे में एक प्राथमिक स्कूल में हुई गोलीबारी की घटना शामिल है. पुलिस ने बताया कि महिला शूटर की उम्र 19 साल से कम है. पीड़ितों को ‘मोनरो कैरेल जूनियर चिल्ड्रन’ अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया.

किश्चियन स्कूल में की गई गोलीबारी में 3 बच्चे, 3 वयस्क और 1 संदिग्ध के मारे जाने की जानकारी आई है. वहीं, वेंडरबिल्ट के मोनरो कैरेल जूनियर चिल्ड्रेन हॉस्पिटल के प्रवक्ता जॉन हाउजर ने तीन बच्चों को अस्पताल पहुंचने के बाद मृत घोषित करने की बात कही. हमले का शिकार हुए स्कूल का नाम वाचा स्कूल बताया जा रहा है. घटनास्थल पर भारी पुलिसबल को तैनात किया गया है.

मेट्रोपॉलिटन नैशविले पुलिस विभाग ने एक ट्वीट में कहा कि संदिग्ध हमलावर मर चुका है. हालांकि, यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि हमले के पीछे का कारण क्या है. पुलिस ने भी यह नहीं बताया है कि हमलावर पुलिस की गोली से मरा या उसने आत्महत्या कर ली.

” isDesktop=”true” id=”5677297″ >

नैशविले अग्निशमन विभाग ने एनबीसी और द न्यूयॉर्क टाइम्स सहित मीडिया के साथ “कई घायलों” की पुष्टि की, जबकि अस्पताल ने तीन बच्चों के मारे जाने की पुष्टि की. स्कूल की वेबसाइट के अनुसार, वाचा स्कूल की स्थापना वाचा प्रेस्बिटेरियन चर्च ने 2001 में की थी. इसमें करीब 200 छात्र पढ़ते हैं. स्कूल में प्रीस्कूल से कक्षा 6 तक की पढ़ाई होती है. यहां अमेरिकी स्कूल में लगातार बढ़ती गोरीबारी की घटनाओं को देखते हुए 2022 में एक एक्टिव शूटर प्रोग्राम भी आयोजित किया गया था. इस दौरान ऐसी घटना के दौरान बचने के गुर सिखाए गए थे.

Tags: United States


Source link

Mahender Kumar
Author: Mahender Kumar

Journalist

Leave a Comment