2021 पीड़िता दहेज़ के लालच बस करने लगे दहेज़ उत्पीडन ! पीड़िता का आरोप पुलिस ने शिकायतकर्ता पर ही कर दिया केस दर्ज
पीड़िता का आरोप दरोगा ने शिकायतकर्ता पर ही   कर दिया केस दर्ज, दरोगा श्री पांडे जी कुछ कहने का मौका नहीं दिया गया और सुलह समझौते करने पर दबाव बनाने लगे

पीड़िता का आरोप दरोगा ने शिकायतकर्ता पर ही कर दिया केस दर्ज, दरोगा श्री पांडे जी कुछ कहने का मौका नहीं दिया गया और सुलह समझौते करने पर दबाव बनाने लगे

image पीड़िता का आरोप दरोगा ने शिकायतकर्ता पर ही कर दिया केस दर्ज, दरोगा श्री पांडे जी कुछ कहने का मौका नहीं दिया गया और सुलह समझौते करने पर दबाव बनाने लगे

पीड़िता का आरोप दरोगा ने शिकायतकर्ता पर ही कर दिया केस दर्ज, पीड़िता और थाने पर दरोगा ने बुलाया और पीड़िता पक्ष को पर दबाव बनाकर सुलह समझौते के लिए मजबूर कर रहा था नहीं मानने पर पीड़िता के भाई को लॉकअप में डाल दिया और 151 में चालान कर दिया रीना देवी ( बदला हुआ नाम ) ने तहरीर दिया है

रीना देवी ( बदला हुआ नाम ) थाना हाटा जनपद कुशीनगर हम पीड़िता की शादी 2 वर्ष पूर्व 28 मई 2019 को सूरज पटेल पुत्र रामप्रीत ग्राम थाना कसया से हुई है शादी के कुछ दिन तक ससुराल में ठीक -ठाक चल रहा था लेकिन तीन से चार महीने बाद हम पीड़िता के प्रति सूरज पटेल के आचरण में बदलाव आने लगा

पीड़िता जबरन बनाए अप्राकृतिक सम्बन्ध दहेज़ के लालच बस करने लगे उत्पीडन

और जबरन बनाए अप्राकृतिक सम्बन्ध दहेज़ के लालच बस करने लगे उत्पीडन, एक रात शराब के नशे में आकर मेरे साथ अप आकृति दुष्कर्म जबरदस्ती करने लगा मेरे लाख मना करने व चिल्लाने के बाद भी मेरे साथ अप्राकृतिक दुष्कर्म किया और उस दिन से उसका रोज का काम हो गया है मैं लज्जा बस किसी से यह बात नहीं बताती मेरे मना करने पर मेरे ससुराल के लोगों के साथ मिलकर मेरे पति भड़का कर मेरे साथ उत्पीड़न करने लगे जिससे रामप्रीत ससुर सास आशा देवी देवर धीरज पटेल 2 ननंद द्वारा दहेज की मांग कर उत्पीड़न करने लगे आए दिन मुझे बांधकर मारने पीटने लगे

हत्या के नियत से बुरी तरह मारने पीटने लगे किसी तरह जान बचाकर घर से बाहर निकली और चिल्लाने लगी

और एक दिन मुझे उक्त सभी लोग हत्या के नियत से बुरी तरह मारने पीटने लगे किसी तरह जान बचाकर घर से बाहर निकली और चिल्लाने लगी या घटना 21 जून 2021 की है मारने पीटने की वजह से हम प्रार्थना को गंभीर चोट आई जिसकी डॉक्टरी परीक्षा रिपोर्ट संलग्न है मेरे ससुराल के लोगों के मारने पीटने की वजह से पेट में पल रहा 3 माह का बच्चा नुकसान हो गया।

दरोगा श्री पांडे जी द्वारा मुझे कुछ कहने का मौका नहीं दिया गया

29 जून 2021 को जब मैं रीना देवी ( बदला हुआ नाम ) पिता व माता के साथ थाना कसया अपना तहरीर दिया तो दरोगा द्वारा कहा गया कि मैं आपको फोन करके बुला लूंगा जानकारी लेने के बाद दूसरे दिन 30 जून 2021 को कसया थाने से फोन आया कि तुम्हारे ससुराल के पक्ष के लोग आ चुके हैं आप भी आ जाओ मैं पिता व माता व भाई राज बसंत के साथ थाने में गई तो दरोगा श्री पांडे जी द्वारा मुझे कुछ कहने का मौका नहीं दिया गया

और सुलह समझौते करने पर दबाव बनाने लगे और कहने लगे यदि तुम सुलह समझौता नहीं करोगी तो मैं तुम्हारे भाई को जेल भेज दूंगा और हमारे भाई राज बसंत को चालान कर दिए मैं थक हार कर माननीय पुलिस कप्तान को अपना प्रार्थना पत्र देने के लिए मजबूर हूं 2 दिन से मैं पुलिस कप्तान को अपना प्रार्थना पत्र के देने के लिए जा रहे हैं

किसी कारण बस मेरा प्रार्थना पत्र स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं पुनः मैं सोमवार व मंगलवार तक अपने प्रार्थना पत्र के द्वारा अपनी गुहार लगाने के लिए प्रतिवध्द रहूंगी । पीड़िता का कहना है, की अगर उसकी सुनवाई नहीं हुई तो मामले को मुख्यमंत्री योगी जी के समक्ष लेजाऊंगी, और फिर भी सुनवाई नहीं हुई तो कोर्ट में अपील करूंगी

पीड़िता का आरोप दरोगा ने शिकायतकर्ता पर ही कर दिया केस दर्ज, दरोगा श्री पांडे जी कुछ कहने का मौका नहीं दिया गया और सुलह समझौते करने पर दबाव बनाने लगे

Leave a Reply