गिरफ्तार होने के बाद पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का आया पहला बयान, मैनहट्टन में कही ये बात

डोनाल्ड ट्रंप, पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति- India TV Hindi

Image Source : AP
डोनाल्ड ट्रंप, पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को गिरफ्तार कर लिए जाने के बाद पूरी दुनिया में चर्चाओं का बाजार गर्म है। सवाल उठ रहा है कि क्या उनकी इस गिरफ्तारी के पीछे मौजूदा राष्ट्रपति जो बाइडन का भी कोई हाथ है या फिर सब कुछ कानून सम्मत हो रहा है?… पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके समर्थक तो फिलहाल यही आरोप लगाते रहे कि उनके खिलाफ की जा रही यह कार्रवाई राजनीति से प्रेरित है। हालांकि उन्होंने इसके लिए सीधे जो बाइडन का नाम नहीं लिया है, लेकिन ट्रंप और उनके समर्थकों का इशारा लगभग उसी ओर है। इस मामले में व्हाइट हाउस का क्या कहना है आइए आपको बताते हैं।

ट्रंप की गिरफ्तारी के बाद जब पत्रकारों ने व्हाइट हाउस का बयान जानना चाहा तो इस पर कोई भी टिप्पणी करने से इंकार कर दिया गया। व्हाइट हाउस ने साफ कहा कि इस घटनाक्रम पर उनकी तरफ से कोई टिप्पणी नहीं की जाएगी, क्योंकि यह कानूनी मामला है। डोनाल्ड ट्रंप की गिरफ्तारी ऐसे वक्त में हुई है, जब 2024 का अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव नजदीक है और ट्रंप ने रिपब्लिकन पार्टी की ओर से अपनी दावेदारी को सबसे मजबूत रूप में प्रस्तुत किया है।

गिरफ्तारी के बाद बोले ट्रंप

गिरफ्तार होने के बाद पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का पहला बयान सामने आया है। ट्रंप ने खुद को निर्दोष बताया है। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ने मंगलवार को मैनहट्टन की एक अदालत में पेशी के दौरान कारोबारी रिकॉर्ड में हेराफेरी करने के 34 संगीन मामलों में खुद को निर्दोष बताया। डोनाल्ड ट्रंप 2016 के राष्ट्रपति पद के चुनाव प्रचार के दौरान वयस्क फिल्मों की अभिनेत्री को मुंह बंद रखने के लिए धन देने के आरोपों से जुड़े आपराधिक मामले में सुनवाई के लिये मंगलवार को मैनहट्टन की अदालत में आत्मसमर्पण करने पहुंचे थे। इससे पहले मैनहट्टन जिला अटॉर्नी के कार्यालय में उन्हें गिरफ्तार किया गया।

अमेरिका के इतिहास में यह पहली बार हुआ ऐसा घटनाक्रम

अमेरिका के इतिहास में यह पहली बार हुआ है जब पूर्व राष्ट्रपति को आपराधिक मामले में गिरफ्तार किया गया है। ट्रंप ने स्टेट सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस जुआन एम मर्चेन के सामने व्यापार रिकॉर्ड को गलत साबित करने के 34 आपराधिक आरोपों में खुद को निर्दोष बताया। ट्रंप के पहुंचने से पहले वहां सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। ट्रंप आठ कारों के काफिले से अदालत पहुंचे। अदालत पहुंचने पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। ट्रंप को गिरफ्तार किए जाने के कुछ ही समय बाद उनके अभियान संचालकों ने उनकी टी-शर्ट पहने एक मगशॉट तस्वीर जारी की जिसमें कहा गया था कि वे दोषी नहीं हैं। 

कोर्ट पहुंचने से पहले गिरफ्तार

जज जुआन मर्चेन ने व्यवस्था दी कि अदालत कक्ष में टीवी कैमरों की अनुमति नहीं दी जाएगी। ट्रंप के वकील ने कहा कि वह अदालत से कहेंगे कि वह (ट्रंप) दोषी नहीं हैं। अमेरिका मीडिया ने ट्रंप के वकील के हवाले से बताया कि वर्ष 2024 में व्हाइट हाउस की दौड़ में शामिल होने के इच्छुक 74 वर्षीय रिपब्लिकन नेता अदालत के समक्ष आपराधिक मामले में दोषी होने से इनकार करेंगे। वह वयस्क फिल्मों की अभिनेत्री स्टार्मी डेनियल को धन देने की वजह से इस मामले का सामना कर रहे हैं। .अदालत में पेश होने के तुरंत बाद ट्रंप फ्लोरिडा वापस लौट जाएंगे और शाम को पाम बीच स्थित अपने घर मार-आ-लागो में बयान देंगे। मगर उन्हें पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया। इस बीच, समाचार एजेंसियों को ट्रंप के खिलाफ लगे अभियोगों को प्रसारित करने की अनुमति नहीं दी गई है। ट्रंप की गिरफ्तारी के बाद उनके समर्थक भड़क उठे। उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया।

Latest World News




Source link

Leave a Comment