कार्यक्रम:गर्भवतियाें और छोटे-छोटे बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिए पोषक तत्वों की जानकारी दी

दरभंगाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
  • पोषण मेला का आयोजन आईसीडीएस कार्यालय पर किया गया

बाल विकास परियोजना कार्यालय केवटी रनवे परिसर में पोषण मेला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन प्रशिक्षु बीडीओ सह सीओ सूर्य प्रताप सिंह व प्रभारी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी प्रभा रानी ने फीता काटकर किया। इस अवसर पर प्रखंड की सभी 26 पंचायतों से आई आंगनवाड़ी सेविका, सहायिका और महिला पर्यवेक्षकों ने तरह-तरह की रंगोली सजाई थी और पोषण सामग्रियों की स्टॉल लगाकर विका, सहायिकाओं ने आम लोगों को पोषण संबंधी जानकारी दिया। पोषण स्टॉल पर पोषण लड्डू, हलवा, सोयाबड़ी, ड्राई फ्रूट्स, ताजा फल, अंकुरित अनाज, हरी सब्जी और मोटे अनाजों में ज्वार,बाजरा, मक्का, मरुआ आदि सजाए गए थे। कार्यक्रम में गर्भवती महिलाओं का गोद भराई और 6 माह के बच्चों का अन्नप्राशन भी कराया गया।

प्रशिक्षु बीडीओ सूर्य प्रताप सिंह ने उपस्थित एलएस, आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका व आमलोगों को मोटे अनाजों के उपयोग की जानकारी दिया और कहा कि मोटे अनाज के उपयोग से मां-बच्चे की सेहत हीं नही सर्वांगीण विकास होता है। इन मोटे अनाजों का दैनिक जीवन में उपयोग करने की सलाह दिए। प्रभारी सीडीपीओ प्रभा रानी ने बताया कि 20 मार्च से 3 अप्रैल 2023 तक आईसीडीएस पोषण पखवाड़ा मना रही है। इस पूरे काल भर प्रखंड मुख्यालय सहित आंगनवाड़ी केंद्रों पर पोषण से संबंधित तरह-तरह की कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। जागरूकता रैली निकाली जाती है। पौधरोपण, माता समूह को जागरूक करने, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना व लाभार्थियों को दी जाने वाली अन्य लाभों की जानकारी दी जाती है। कार्यक्रम के दौरान पोषक क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं को, छोटे-छोटे बच्चों को कुपोषण से बचाने के उपाय बताए जाते हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

Mahender Kumar
Author: Mahender Kumar

Journalist

Leave a Comment