श्री नगर का लकड़ी का बना दुनिया का सबसे ऊंचा आर्क ब्रिज है कुतुबमीनार और फ्रांस के एफिल टावर से ऊंचा

ark bridge1 श्री नगर का लकड़ी का बना दुनिया का सबसे ऊंचा आर्क ब्रिज है कुतुबमीनार और फ्रांस के एफिल टावर से ऊंचा

दुनिया का सबसे ऊंचा आर्क ब्रिज इस ब्रिज को ही देखिए सन 1950 में बना था श्रीनगर शहर की सरहद में दाखिल होने के लिए लकड़ियों के पट्ठों को जोड़कर इस ब्रिज को झेलम नदी के ऊपर बांधा गया था जब कश्मीर में उतना रश नहीं होता था। 30 वर्षों तक इस लकड़ी के ब्रिज ने कश्मीरियों की खूब सेवा की।

फिर एक वक्त ऐसा आया जब यह बढ़ते ट्रैफिक के बोझ को उठाने में थकने, चरमराने लगा।
ऐसे में इस ब्रिज से बमुश्किल 100 मीटर के फासले पर कंक्रीट का अब्दुल्ला ब्रिज तैयार किया गया और ट्रैफिक को उस ब्रिज से शुरू करवाया गया।

आर्क ब्रिज यह ब्रिज डेडीकेट कर दिया गया पैदल चलने वाले लोगों को,

यह बात है 1980। आर्क ब्रिज यह ब्रिज डेडीकेट कर दिया गया पैदल चलने वाले लोगों को, साइकिल चलाने वाले बच्चों और चहल कदमी करने वाले लोगों को।

ये ब्रिज झेलम नदी पर बना पहला आर्क ब्रिज है। ये ब्रिज कश्मीर की सांस्कृतिक विरासत है। इसके महत्व को समझते हुए सरकार ने इसे तोड़ कर सीमेंट का ब्रिज नही बनाया बल्कि इसे सहेजा। इस ब्रिज को रिनोवेट किया गया।
आज लोग यहां घूमने आते हैं। ब्रिज के दोनो ओर बिजी बाज़ार हैं, रेस्टोरेंट हैं और आजकल ब्रिज पर बिहार से आए नंद लाल की झालमुड़ी भी बिक रही है

Rajesh Lal
Author: Rajesh Lal

Writer and Social Thinker and Human Rights Worker

Leave a Comment